चकमक का शानदार सफर, 300वें अंक की तैयारी

सितंबर में चकमक का 300वां अंक प्रकाशित होगा। यह अंक असल में सितंबर-अक्‍टूबर का जुड़वां अंक होगा। 200 से ज्‍यादा पन्‍ने होंगे इसमें। चकमक से जुड़े लोगों की कोशिश है कि इस 300वें अंक में पाठकों को बेहद आत्‍मीय, रोचक, समृद्ध और सुविविध सामग्री मिले।

चकमक से जुड़े सुशील ने एक पत्र के जरिये बताया है कि पढ़ने-पढ़ाने के सिलसिले को चलाये रखना शुभचिंतकों की मदद के बिना मुमकिन नहीं होता। लिहाजा उन्‍होंने सबसे सदस्‍यता लेने, परिचित-अपरिचित बच्‍चे-बच्चियों को सदस्‍यता उपहार में देने और रचना भेजने की अपील की है।

आप सब जानते हैं कि चकमक पिछले दो दशकों में आयी बच्‍चों-किशोरों की शानदार पत्रिका है, जो वैज्ञानिक चेतना की एक बेहतरीन नींव रखती है।


You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *