Blog

बुरे दिनों में चुटकुला भी एक हथियार है

➧ अरुण माहेश्‍वरी हिटलर के जमाने के व्हिस्‍पर जोक्स नाजी सैनिक और जासूस जानते थे, लेकिन इन्हें रोकते नहीं थे, क्योंकि यह उनके वश में नहीं था। आदमी बुरी से बुरी स्थिति में भी...

गाली-मुक्‍त सिनेमा में आ पाएगा पूरा समाज?

सिनेमा समाज की कहानी कहता है और समाज की गलियों में सहज-स्‍वाभाविक रूप से गाली की आवाजाही है। यह अच्‍छा है या बुरा, इस पर बहस करने की जगह यह मानना जरूरी है कि...

पेरूमल मुरुगन को फिर से जीना होगा

➧ प्रणय कृष्‍ण लेखक पेरूमल मुरुगन मर गया। वह भगवान नहीं है, लिहाजा वह खुद को पुनरुज्जीवित नहीं कर सकता। वह पुनर्जन्म में भी विश्वास नहीं करता। आगे से, पेरूमल मुरुगन सिर्फ एक अध्यापक...

जो सच सच बोलेंगे, मारे जाएंगे!

असहमत होने पर IBN7 ने पंकज श्रीवास्‍तव को निकाला जो इस पागलपन में शामिल नहीं होंगे, मारे जाएंगे। कठघरे मे खड़े कर दिये जाएंगे, जो विरोध में बोलेंगे। जो सच सच बोलेंगे, मारे जाएंगे।...

रूह से रूह तक का सफर #TheFrozenRose

➧ सैयद एस तौहीद इंसान दुनिया में जिस किसी को मोहब्‍बत में जान से ज्यादा अजीज बना लेता है, परवरदिगार उसे उस जैसा बना दिया करता है। खुदा की दूसरी दुनिया के बाशिंदों को...

आज खामोश रहे तो कल सन्नाटा छाएगा!

➧ अशोक कुमार पांडेय बहुत पेचीदा समय है यह और इससे मुठभेड़ करने की रणनीति तलाशने से पहले हमें भूमिका के बतौर न सिर्फ इसे समझना होगा बल्कि जिम्मेदारीपूर्वक इसे दूसरों तक पहुंचना और...

उलझन से उलझन को जोड़ती गुलजार की अंगूर

♦ सैयद एस तौहीद शेक्सपियर की रचनाओं पर फिल्में बनाने में विशाल भारद्वाज के प्रेरणास्रोत यकीनन गुलजार थे। गुलजार ने बार्ड की कृति ‘comedy of Errors’ पर ‘अंगूर’ जैसी फिल्म बनायी। समरूपी पहचान के...

दिल्‍ली चुनाव मोदी के लिए वाटरलू होगा?

इस बार दिल्ली में केजरीवाल के लिए जो समर्थन दिख रहा है वह अभूतपूर्व है। निरंकुश शासन के खिलाफ विद्रोह की शुरुआत हो चुकी है। दिल्ली में आम आदमी पार्टी की जीत को लेकर...

तुम हिंदी क्‍यों नहीं सीख लेते डेविड वार्नर?

ईयान वुलफोर्ड मेलबोर्न के ला ट्रोब विश्‍वविद्यालय में हिंदी भाषा और साहित्‍य के प्राध्‍यापक हैं। डेविन वार्नर और रोहित शर्मा के बीच हुए भाषाई विवाद में वे हिंदी के पक्ष में बोले। ऐसे वक्‍त...

रोने वाले ऊंट की कहानी #Weeping Camel

➧ राहुल सिंह दुनिया अविश्वसनीय से लगनेवाले किस्सों से इस कदर लबरेज है कि अनजाने अगर उसके पास आप पहुंच जाएं तो साझा करने की हसरत से दिल बेचैन हो उठता है। ‘दि स्टोरी...