Tagged: Subhash Kapur

0

राष्ट्रीय सुरक्षा कवच पहन कर खेला गया एक काला हास्य

JOLLY LLB 2 ➧ अभिषेक गोस्वामी फिल्म जॉली एल एल बी टू एक ऐसे नवोदित महत्त्वाकांक्षी वकील जगदीश्वर मिश्रा ‘जॉली’ की कहानी है, जो किसी भी कीमत पर अपने आप को नामी वकीलों की...

मेनस्ट्रीम सिनेमा अपनी खामियों के बावजूद ताकतवर है 0

मेनस्ट्रीम सिनेमा अपनी खामियों के बावजूद ताकतवर है

अजय ब्रह्मात्‍मज ♦ बदलाव में ऐसा कोई बॉर्डर लाइन नहीं है। आप इंडस्ट्री में आये नये लोगों को सोच कर देखिए तो पाएंगे कि उनका बॉलीवुड से कोई पुश्तैनी नाता नहीं है, यह एक बदलाव है। शुक्रवार को रिलीज दो फिल्में ‘द लंच बॉक्स’ और ‘फटा पोस्टर निकला हीरो’ बदलाव के उदाहरण के रूप मे हैं। काफी वैक्यूम आया है पिछले समय में, भोजपुरी सिनेमा ने यह वैक्यूम काफी हद तक भरा है। बदलाव तो अब यहां तक है कि जो विदेशी रोमांस था, वह अब शुद्ध देसी रोमांस हो गया है।