Tagged: Sudheesh Pachauri

लेखक बेहतर राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता हो सकते हैं, पर वे सुस्‍त हैं 25

लेखक बेहतर राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता हो सकते हैं, पर वे सुस्‍त हैं

डेस्‍क ♦ साहित्य और मीडिया दो ऐसे पड़ोसी देश की तरह हैं जो हमेशा एक दूसरे से लड़ते रहते हैं। इनकी दुश्मनी पुरानी है। फिर भी साहित्य को मीडिया की जरूरत है। मीडिया को साहित्य की जरूरत है। मशहूर कथाकार और हंस के संपादक राजेंद्र यादव ने ये बातें मंगलवार को दिल्‍ली के इंडिया हैबिटैट सेंटर के गुलमोहर सभागार में कहीं। मौका था मोहल्‍ला लाइव, जनतंत्र और यात्रा बुक्‍स की साझेदारी में पहले बहसतलब का। मीडिया में साहित्‍य की खत्‍म होती जगह पर बोलते हुए उन्‍होंने कहा कि हमें एक खास तरह के साहित्य को ही साहित्य मानने की मानसिकता से उबरने की जरूरत है। जिस वक्त ऐसा होने लगेगा इस बहस को एक निष्कर्ष मिलता दिखाई देने लगेगा।

साहित्‍य और मीडिया पर आज बहसतलब, हैबिटैट आएं 13

साहित्‍य और मीडिया पर आज बहसतलब, हैबिटैट आएं

डेस्‍क ♦ क्‍या हिंदी साहित्‍य मीडिया के लिए सेलेबल कमॉडिटी (बिकाऊ माल) क्‍यों नहीं है? इस मसले पर हिंदी की वर्चुअल दुनिया के सबसे पॉपुलर मंच जनतंत्र/मोहल्‍ला लाइव और पेंगुइन प्रकाशन के हिंदी सहयोगी यात्रा बुक्‍स के साझा प्रयास से एक सेमिनार का आयोजन किया गया है। 18 मई की शाम सात बजे इंडिया हैबिटैट सेंटर, नयी दिल्‍ली के गुलमोहर सभागार में आयोजित इस सेमिनार में हिंदी साहित्‍य और मीडिया के पांच जरूरी नाम सेमिनार में अपनी बात रखेंगे। ये वक्‍ता होंगे : राजेंद्र यादव, सुधीश पचौरी, ओम थानवी, रवीश कुमार और शीबा असलम फहमी।

शनिवारी चर्चा में आभासी दुनिया पर चखचख 2

शनिवारी चर्चा में आभासी दुनिया पर चखचख

डेस्‍क ♦ वर्चुअल मारामारी के इस दौर में भारत कितना उछल रहा है और भारत के लोग किस किस्‍म के शोर-शराबे में श‍ामिल हो रहे हैं – इस मसले डीडी न्‍यूज इस शनिवार की रात एक प्रोग्राम पेश कर रहा है। शनिवारी चर्चा। ये डीडी न्‍यूज का बहुत पुराना प्रोग्राम है, जो शनिवार की रात दस बजे से ग्‍यारह बजे तक और रविवार की सुबह ग्‍यारह बजे से 12 बजे तक दिखाया जाता है। इसकी एंकर होती हैं नीलम शर्मा। शनिवार, 1 मई को दिखायी जाने वाली शनिवारी चर्चा में इस बार छह गेस्‍ट हैं : लेखक सुधीश पचौरी, जानी मानी मॉडल अमनप्रीत वाही, फोन टैपिंग का भंडाफोड़ करने वाले युवा पत्रकार सैकत दत्ता, समाजशास्‍त्री संजय श्रीवास्‍तव, वकील पवन दुग्‍गल और मोहल्‍ला लाइव डॉट कॉम के अविनाश।