Tagged: Vigyapan Wali Ladki

दिनेश श्रीनेत की कहानी: विज्ञापन वाली लड़की 4

दिनेश श्रीनेत की कहानी: विज्ञापन वाली लड़की

डेस्‍क ♦ विज्ञापन वाली लड़की। कानपुर से दिनेश श्रीनेत्र ने ये कहानी भेजी है। हालांकि ये दलित की कहानी नहीं है, फिर भी इसे आप सबसे साझा कर रहे हैं – क्‍योंकि ये इसी उद्देश्‍य से भेजी गयी है। यह कहानी सबसे पहले वागर्थ के अप्रैल 2006 के अंक में प्रकाशित हुई और सराही गयी थी। इसके बाद कहानी का उर्दू में अनुवाद हुआ और यह उर्दू आजकल में प्रकाशित हुई। उर्दू के पाठकों ने इसे इतना पसंद किया कि यह बाद में पाकिस्तान से आसिफ फारुकी के संपादन में निकलने वाली पत्रिका दुनियाजाद में प्रकाशित हुई। जैसा कि लेखक ने हमें जानकारी दी है, यह अब तक उनकी पहली और इकलौती प्रकाशित कहानी है। कहानी अभी और भी है, पढ़ते रहिए मोहल्‍ला लाइव। किसी भी कहानी पर फिल्‍म बनाने के लिए लेखक की अनुमति आवश्‍यक है।